निर्वाचन जागरूकता को प्रोत्साहित करने के लिए मंत्रालयों, सरकारी विभागों, गैर-सरकारी विभागों तथा अन्य संस्थानों में मतदाता जागरूकता फोरम (वीएएफ) बनाये जाएंगे। भारत निर्वाचन आयोग 16 जनवरी, 2019 को प्रवासी भारतीय केन्द्र, नई दिल्ली में मंत्रालयों के नोडल अधिकारियों और फेडरेशनों के प्रतिनिधियों को इसकी जानकारी देगा।

 इसी तरह की जानकारी के बारे में सत्र मुख्य निर्वाचन अधिकारियों और जिला निर्वाचन अधिकारियों के  लिए 16 जनवरी को ही आयोजित किये जा रहे हैं जहां राज्य और जिला में विभागों, गैर सरकारी विभागों के नोडल अधिकारियों, सीएसओ, कार्पोरेट और मीडिया को जानकारी दी जाएगी। 
 मतदाता जागरूकता फोरम अनौपचारिक फोरम है जो चुनाव प्रक्रिया के बारे में जागरूकता के लिए 
\विचार-विमर्श, क्वीज, प्रतियोगिताएं तथा अन्य गतिविधियों के माध्यम से जागरूकता कार्यक्रम चलाते हैं।
 संगठन के सभी अधिकारियों से वीएएफ के सदस्य बनने की आशा की जाती है। संगठन के प्रमुख 
फोरम के अध्यक्ष होंगे। 
 वीएएफ भारत निर्वाचन आयोग के निर्वाचक साक्षरता कार्यक्रम का हिस्सा है। 25 जनवरी, 2018 को 
8वें राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर लांच किया गया ईएलसी कार्यक्रम का उद्देश्य प्रत्येक शिक्षण 
संस्थानों के निर्वाचक साक्षरता क्लब तथा प्रत्येक मतदान केन्द्र पर चुनाव पाठशाला में निर्वाचक 
साक्षरता क्लब बनाना है ताकि औपचारिक शिक्षा प्रणाली के बाहर के लोगों को कवर किया जा सके।
 कार्यक्रम लांच करने के पहले वर्ष में पूरे देश में लगभग 2.11 लाख ईएलसी स्थापित किए गये हैं। 


 
ईएलसी तथा चुनाव पाठशाला गतिविधियों का संचालन संयोजक द्वारा किया जाता है,
\जिसमें रिर्सोस गाइड का इस्तेमाल होता है जिसमें प्रत्येक गतिविधि के लिए कदम-कदम पर निर्देश 
दिये जाते हैं। 9वीं, 10वीं, 11वीं तथा 12वीं कक्षा के लिए अलग से रिर्सोस पुस्तकें दी गयी हैं। 
वर्ष भर की गतिविधि का कैलेण्डर है। प्रत्येक कक्षा के लिए 4 घंटे की कुल 6 से 8 गतिविधियां 
चिन्हित की गयी हैं। 
 
***  
Share To:

News For Bharat

Post A Comment:

0 comments so far,add yours