Fresh Updates

महात्‍मा गांधी की 150वीं जयंती समारोह के एक हिस्‍से के रूप में राजधानी में ‘डांडी यात्रा’ प्रदर्शनी का उद्घाटन

    राष्‍ट्रीय आधुनिक कला दीर्घा, नई दिल्‍ली, संस्‍कृति मंत्रालय द्वारा आयोजित प्रदर्शनी डांडी यात्रा का उद्घाटन 29 दिसंबर, 2018 को वरिष्‍ठ गांधीवादी एवं राष्‍ट्रीय गांधी संग्रहालय, नई दिल्‍ली के पूर्व निदेशक डॉ. वाई.पी. आनंद द्वारा किया गया।

   इसमें अन्‍य गणमान्‍य व्‍यक्तियों के अतिरिक्‍त, गांधी स्‍मृति एवं दर्शन समिति के निदेशक श्री दीपांकर ज्ञान एवं संस्‍कृति मंत्रालय के संयुक्‍त सचिव श्री एस.सी. बर्मा ने भी भाग लिया।
   यह प्रदर्शनी राष्‍ट्रपिता महात्‍मा गांधी के 150वीं जयंती समारोह का एक हिस्‍सा है, जिससे कि उनके शांति संदेशों को प्रसारित किया जा सके। यह प्रदर्शनी कलाकार छगनलाल जादव के अनदेखे चित्रों तथा नंदलाल बोस, उपेन्‍द्र महारथी और रामकिंकर बैज इत्‍यादि जैसे गांधीजी के समकालीन कलाकारों के एनजीएमए संग्रह की अजेय कलाकृतियों को भी प्रदर्शित करती है।
    इस अवसर पर एनजीएमए, दिल्‍ली के महानिदेशक श्री अद्वैत गडनायक ने कहा कि प्रदर्शनी में साबरमती सत्‍याग्रह आश्रम, कोछरब से गुजरात के एक छोटे तटीय गांव डांडी तक की इस नमक यात्रा के ऐतिहासिक चित्रों को प्रदर्शित किया गया है। 240 मील की इस ऐतिहासिक यात्रा में 12 रात्रि विश्राम हुए और यह यात्रा नमक के लिए ब्रितानी कानून को तोड़े जाने की गवाह बनी। उस दौरान लोगों का अथाह समुद्र इस यात्रा की ओर खींचा चला आया, जिससे यह विश्‍व के सबसे बड़े जन आंदोलनों में शामिल हो गया। इस कार्यक्रम में बड़ी संख्‍या में मीडिया से जुड़े व्‍यक्ति तथा कलाकार भी शामिल हुए। उन्‍होंने कहा कि एक अनजाने सत्‍याग्रही तथा कलाकार छगनलाल जादव ने अपनी छोटी ड्राइंग बुक में स्‍वराज की दिशा में इस ऐतिहासिक यात्रा के प्रतिभागियों के बीच कुछ जाने/अनजाने लोगों के चित्र बनाए थे। उन्‍होंने कहा कि ये ऐतिहासिक रेखाचित्र जो अब हमारे जीवित इतिहास का हिस्‍सा बन गए हैं और वर्तमान में ये इलाहाबाद के डॉ. रिज़वान कादरी के व्‍यक्तिगत संग्रह का हिस्‍सा हैं, जिन्‍होंने इन चित्रों को रोशनी में लेकर आए तथा इस प्रदर्शनी के जरिए पहली बार इन्‍हें प्रदर्शित करने के प्रयोजन से एनजीएमए के साथ इन्‍हें साझा किया।          
   यह प्रदर्शनी आम लोगों के लिए 30 दिसंबर, 2018 से सुबह 11 बजे से सायं साढ़े छह बजे तक प्रत्‍येक सोमवार एवं अन्‍य राष्‍ट्रीय अवकाशों को छोड़कर सभी कार्य दिवसों के दौरान खुली रहेगी।

No comments