प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने आज राजकोट में महात्मा गांधी संग्रहालय का उद्घाटन किया। संग्रहालय अल्फ्रेड हाई स्कूल में बनाया गया हैजो महात्मा गांधी के प्रारंभिक वर्षों का एक महत्वपूर्ण हिस्सा रहा था। यह गांधीवादी संस्कृतिमूल्यों और दर्शन के बारे में जागरूकता फैलाने में मदद करेगा।

प्रधान मंत्री ने 624 घरों की सार्वजनिक आवास परियोजना के उद्घाटन  के उपलक्ष्य में एक पट्टिका का अनावरण भी किया और इस अवसर पर 240 लाभार्थी परिवारों के ई-गृह प्रवेश के साक्षी भी बने।  

इस मौके पर उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि महात्मा गांधी से सीखने के लिए बहुत कुछ है। गुजरात इस मायने में बहुत भाग्यशाली है कि वह एक ऐसी भूमि है जो बाबू से बहुत करीब से जुड़ी है। पर्यावरण के प्रति बापू की चितांओं का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि उनसे प्रेरणा लेकर हमें एक ऐसे भविष्य के लिए काम करना होगा जिसमें स्वच्छता और पर्यावरण संरक्षण को पूरी अहमियत दी जाए।

 प्रधानमंत्री ने बापू का स्मरण करते हुए कहा कि उन्होंने कतार में सबसे पीछे खड़े लोगों के बारे में सोचने और वंचितों के कल्याण के लिए काम करने की बात सिखाई थी। उनकी इस सेाच से प्रेरणा लेकर ही हम आज गरीबों के लिए काम कर रहे हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि हम अपनी पहल और प्रयासों से उनके जीवन में बदलाव लाना चाहते हैंउनके लिए घर बनाना चाहते हैं।

उन्होंने कहा आजादी के 70 वर्ष बीत जाने के बाद भी बापू के स्वच्छ भारत का सपना साकार नहीं हो पाया है ऐसे में हम सबको मिलकर इसे पूरा करना है। उन्होंने  कहा कि पिछले चार सालों में हमने स्वच्छ भारत मिशन को मूर्त रूप देने की दिशा में काफी कुछ किया है, लेकिन अभी और बहुत कुछ करना बाकी है।

प्रधानमंत्री ने बाद में महात्मा गांधी संग्रहालय का अवलोकन किया।
Share To:

News For Bharat

Post A Comment:

0 comments so far,add yours