Breaking News

मंत्रिमंडल ने इंस्‍टीट्यूट ऑफ चार्टेड एकाउंटेंट् ऑफ इंडिया (आईसीएआई) तथा केन्‍या के इंस्‍टीट्यूट ऑफ सर्टिफायर्ड पब्लिक एकाउंटेंट्स के बीच समझौता ज्ञापन को मंजूरी दी

प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने इंस्‍टीट्यूट ऑफ चार्टेड एकाउंटेंट् ऑफ इंडिया (आईसीएआई) तथा केन्‍या के इंस्‍टीट्यूट ऑफ सर्टिफायर्ड पब्लिक एकाउंटेंट्स के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्‍ताक्षर को अपनी मंजूरी दे दी है। इससे संयुक्‍त शोध, गुणवत्‍ता समर्थन, क्षमता सृजन, प्रशिक्षु एकाउंटेंट आदान-प्रदान कार्यक्रम के माध्‍यम से ज्ञान साझा करने के क्षेत्र में परस्‍पर सहयोग में मदद मिलेगी और निरंतर पेशेवर विकास (सीपीडी) पाठ्यक्रमों, कार्यशालाओं तथा सम्‍मेलनों के आयोजन में सहायता मिलेगी।

विवरण:
·         आईसीएआई तथा आईसीपीएके दोनों संस्‍थानों के कर्मियों को कार्यक्रम के अनुसार सहमति वाले औपचारिक कार्य प्‍लेसमेंट के जरिए अवसर प्रदान करेंगे।
·         जागरूकता बढ़ाने तथा आईसीएआई/आईसीपीएके की रणनीतिक साझेदारी की गतिविधियों को संयुक्‍त रूप से प्रोत्‍साहन दिया जाएगा और समझौता ज्ञापन में दिए गए क्षेत्रों में सहयोग को प्रोत्‍साहित किया जाएगा।
·         आईसीएआई/आईसीपीएके मानक पहलों तथा प्रशिक्षु एकाउंटेंट आदान-प्रदान कार्यक्रम पर सहयोग करेंगे।
प्रमुख प्रभाव:
भारत केन्‍या का छठा सबसे बड़ा व्‍यापार साझीदार है और केन्‍या का सबसे बड़ा निर्यातक है। अफ्रीकी काउंटियों पर एक रिपोर्ट के अनुसार केन्‍या की अर्थव्‍यवस्‍था सकल घरेलू उत्‍पाद की दृष्टि से 2017 में अफ्रीका की शीर्ष प्रदर्शन करने वाली अर्थव्‍यवस्‍था रही है। केन्‍या का आर्थिक आधार व्‍यापक है और वह अपने यहां बनी वस्‍तुओं के लिए भारतीय बाजार में पहुंच बढ़ाना चाहता है। दूसरी ओर भारत केन्‍या का शीर्ष विदेशी व्‍यापार सहयोगी बनने का इच्‍छुक है।
 अफ्रीकी देशों में केन्‍या की अर्थव्‍यवस्‍था शीर्ष अर्थव्‍यवस्‍था होने के कारण तथा दोनों देशों के निवेश और विश्‍वास को देखते हुए भारत के चार्टेड एकाउंटेंट केन्‍या के विकास में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभा रहे है और केन्‍या में भारत के चार्टेड एकाउंटेंटों के लिए अपार अवसर शेष है।प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने इंस्‍टीट्यूट ऑफ चार्टेड एकाउंटेंट् ऑफ इंडिया (आईसीएआई) तथा केन्‍या के इंस्‍टीट्यूट ऑफ सर्टिफायर्ड पब्लिक एकाउंटेंट्स के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्‍ताक्षर को अपनी मंजूरी दे दी है। इससे संयुक्‍त शोध, गुणवत्‍ता समर्थन, क्षमता सृजन, प्रशिक्षु एकाउंटेंट आदान-प्रदान कार्यक्रम के माध्‍यम से ज्ञान साझा करने के क्षेत्र में परस्‍पर सहयोग में मदद मिलेगी और निरंतर पेशेवर विकास (सीपीडी) पाठ्यक्रमों, कार्यशालाओं तथा सम्‍मेलनों के आयोजन में सहायता मिलेगी।
विवरण:
·         आईसीएआई तथा आईसीपीएके दोनों संस्‍थानों के कर्मियों को कार्यक्रम के अनुसार सहमति वाले औपचारिक कार्य प्‍लेसमेंट के जरिए अवसर प्रदान करेंगे।
·         जागरूकता बढ़ाने तथा आईसीएआई/आईसीपीएके की रणनीतिक साझेदारी की गतिविधियों को संयुक्‍त रूप से प्रोत्‍साहन दिया जाएगा और समझौता ज्ञापन में दिए गए क्षेत्रों में सहयोग को प्रोत्‍साहित किया जाएगा।
·         आईसीएआई/आईसीपीएके मानक पहलों तथा प्रशिक्षु एकाउंटेंट आदान-प्रदान कार्यक्रम पर सहयोग करेंगे।
प्रमुख प्रभाव:
भारत केन्‍या का छठा सबसे बड़ा व्‍यापार साझीदार है और केन्‍या का सबसे बड़ा निर्यातक है। अफ्रीकी काउंटियों पर एक रिपोर्ट के अनुसार केन्‍या की अर्थव्‍यवस्‍था सकल घरेलू उत्‍पाद की दृष्टि से 2017 में अफ्रीका की शीर्ष प्रदर्शन करने वाली अर्थव्‍यवस्‍था रही है। केन्‍या का आर्थिक आधार व्‍यापक है और वह अपने यहां बनी वस्‍तुओं के लिए भारतीय बाजार में पहुंच बढ़ाना चाहता है। दूसरी ओर भारत केन्‍या का शीर्ष विदेशी व्‍यापार सहयोगी बनने का इच्‍छुक है।
 अफ्रीकी देशों में केन्‍या की अर्थव्‍यवस्‍था शीर्ष अर्थव्‍यवस्‍था होने के कारण तथा दोनों देशों के निवेश और विश्‍वास को देखते हुए भारत के चार्टेड एकाउंटेंट केन्‍या के विकास में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभा रहे है और केन्‍या में भारत के चार्टेड एकाउंटेंटों के लिए अपार अवसर शेष है।