Breaking News

पर्यटन मंत्री ने राष्ट्रीय पर्यटन पुरस्कार 2016-17 प्रदान किए, अतुल्य भारत मोबाइल एप्प लांच किया

केंद्रीय पर्यटन राज्य मंत्री  (स्वतंत्र प्रभार) श्री के.जे. अल्फॉन्स ने विश्व पर्यटन दिवस के अवसर पर आज नई दिल्ली में राष्ट्रीय पर्यटन पुरस्कार 2016-17 प्रदान किए। उन्होंने अतुल्य भारत मोबाइल एप्प तथा अतुल्य भारत पर्यटक सुविधा प्रदाता प्रमाणीकरण कार्यक्रम भी लांच किया।

इस अवसर पर पर्यटन मंत्री ने कहा कि पिछले चार वर्षों में भारत ने पर्यटन के क्षेत्र में लंबी छलांग लगाई है और आज पर्यटन भारतीय अर्थव्यवस्था की नींव है। उन्होंने कहा कि पर्यटन क्षेत्र रोजगार और विदेशी मुद्रा का साधन है, इसलिए इस क्षेत्र की क्षमता का लाभ उठाने के लिए पर्यटन उद्योग को साझेदारी करनी होगी।
पुरस्कार विजेताओँ को बधाई देते हुए श्री के.जे.अल्फॉन्स ने पर्यटन उद्योग से कहा कि आतिथ्य सेवाओं में सुधार करने की आवश्यकता है क्योंकि आतिथ्य-सत्कार भारत की अनूठी विशेषता है और यह विशेषता हमें अन्य देशों से ऊपर रखती है। उन्होंने कहा कि देश की छवि बनाने और देश को पर्यटक के लिए सुरक्षित बनाने की जिम्मेदारी प्रत्येक नागरिक की है।
पर्यटन मंत्री ने कहा कि 2019 में भारत यूएनडब्ल्यूटीओ के लिए अधिकारिक पर्यटन दिवस समारोहों की मेजबानी करेगा। विश्व पर्यटन दिवस 2018 का विषय है “पर्यटन और डिजिटल परिवर्तन”। पर्यटन मंत्री ने पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए मंत्रालय द्वारा की गई अनेक डिजिटल पहलों की चर्चा की। इसमें नई अतुल्य भारत वेबसाइट लांच करना, इस साइट पर 24x7 चैट बॉट इंटरफेस, भारत में बौद्ध धर्म पर नई वेबसाइट लांच करना शामिल हैं।
पर्यटन मंत्री ने बताया कि पर्यटन मंत्रालय ने 25 सितंबर, 2018 से सेवारत मोटेल की स्वीकृति के लिए स्वैच्छिक योजना लागू की है। इसका उद्देश्य मोटेल वर्ग को समग्र पर्यटन उत्पाद के घटक के रूप में देखना और सुविधाओं तथा मोटेल सेवाओं का मानक तय करना है।
उन्होंने बताया कि बाढ़ प्रभावित केरल अब पर्यटकों के स्वागत के लिए तैयार है क्योंकि होटल और पर्यटक स्थल चालू हो गये हैं। उन्होंने बताया कि राज्य आपदा से तेजी से बाहर आ रहा है और यह पर्यटन उद्योग के लिए राज्य के पर्यटन क्षेत्र को समर्थन देने का उचित समय है।
अपने स्वागत भाषण में केंद्रीय पर्यटन सचिव श्रीमती रश्मि वर्मा ने कहा कि पिछले चार वर्षों में भारत ने ब्रांडिंग, विज्ञापन तथा पर्यटन क्षमताओं के प्रदर्शन में अपनी प्रोत्साहन नीतियों को व्यापक रूप से लागू किया है। उन्होंने कहा कि पर्यटन मंत्रालय ने बदलते समय के अनुसार विरासत अपनाने की योजना जैसी अनेक पहल की है। इस योजना में स्मारकों की सुविधा में सुधार के लिए कंपनियों, स्कूलों तथा अन्य हितधारकों के साथ सहयोग करने की व्यवस्था है।
राष्ट्रीय पर्यटन पुरस्कार 1990 के दशक में प्रारंभ किये गये थे। इस वर्ष पर्यटन उद्योग के हितधारकों, राज्य सरकारों, केंद्रीय एजेंसियों तथा व्यक्तियों को 77 पुरस्कार प्रदान किए गए।
आज लांच किया गया सुविधा प्रदाता प्रमाणीकरण कार्यक्रम ऑनलाइन लर्निंग का अपने किस्म का पहला कार्यक्रम है और इसका उद्देश्य सुविधा प्रदाताओं के माध्यम से सार्थक रूप में देश की ब्रांडिंग करना। इस ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफॉर्म को विप्रो लिमिटेड ने विकसित किया है।
अतुल्य भारत मोबाइल एप्प भारत को एक संपूर्ण गंतव्य के तौर पर प्रस्तुत करता है, जिसमें आध्यात्मिकता, प्राचीन धरोहर, रोमांच, संस्कृति, योग, स्वास्थ्य जैसे प्रमुख अनुभव शामिल हैं। मोबाइल एप्प को आधुनिक सैलानियों की प्राथमिकताओं को ध्यान में रखकर बनाया गया है और उसमें अंतर्राष्ट्रीय मानकों पर खरी उतरने वाली प्रौद्योगिकियां इस्तेमाल की गई हैं। इस एप्प को टेक महिन्द्रा ने विकसित किया है।