कुपोषण और मोटापे की समस्या
·         राष्‍ट्रीय परिवार एवं स्‍वास्‍थ्‍य सर्वेक्षण (एनएफएचएस)-4 (2015-16)के अनुसार आदिवासी बच्‍चों में बौनापनकृश्‍ता और कम वजन की व्‍यापकता क्रमश: 43.8%, 27.4% और 45.3है।
·         ग्रामीण बच्‍चों की तुलना में शहरी बच्‍चों में अधिक वजन का अनुपात उच्‍चतर हैजैसाकि 2.8 प्रतिशत शहरी बच्‍चे अधिक वजन वाले हैं जबकि ग्रामीण बच्‍चे 1.8 प्रतिशत अधिक वजन वाले हैं।

Share To:

News For Bharat

Post A Comment:

0 comments so far,add yours